कोलंबो किंग्स ने 7 विकेट से हराया LPL 2020: कैंडी टस्कर्स ने 10 गेंद में गंवाए 4 विकेट

कोलंबो किंग्स ने 14.1 ओवर में ही मैच अपने नाम कर लिया। इस जीत से वह अंक तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गई। कोलंबो किंग्स के 5 मैच में 8 अंक हो गए हैं। उसने लगातार दूसरा मैच जीता है। कैंडी टस्कर्स को लगातार तीसरे मैच में शिकस्त मिली है।

कोलंबो किंग्स ने 7 विकेट से हराया  LPL 2020: कैंडी टस्कर्स ने 10 गेंद में गंवाए 4 विकेट


लंका प्रीमियर लीग (Lanka Premier League) 2020 में शनिवार की रात यानी 5 दिसंबर को कोलंबो किंग्स ने कैंडी टस्कर्स के खिलाफ 7 विकेट से बड़ी जीत हासिल की। 


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">


कैंडी टस्कर्स की इस टूर्नामेंट में यह लगातार तीसरी हार है। कैंडी टस्कर्स के कप्तान कुशल परेरा ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि, उनका यह फैसला गलत साबित हुआ और पूरी टीम 19.2 ओवर में 105 रन पर ढेर हो गई। कैंडी टस्कर्स के आखिरी 4 विकेट महज 10 रन के अंतर में गिरे।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी कोलंबो किंग्स ने 14.1 ओवर में 3 विकेट पर 108 रन बना मैच अपने नाम कर लिया। इस जीत से वह अंक तालिका में दूसरे नंबर पर पहुंच गई। कोलंबो किंग्स के 5 मैच में 8 अंक हो गए हैं। उसने लगातार दूसरा मैच जीता है। 

इस जीत के बाद यह भी कहा जा सकता है कि एक तरीके से उसका सेमीफाइनल में पहुंचना लगभग तय हो गया है। कैंडी टस्कर्स की शुरुआत अच्छी हुई थी। उसका पहला तीसरे ओवर की तीसरी गेंद पर कुशल परेरा के रूप में गिरा था। हालांकि, तब टीम का स्कोर 22 रन था।



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

इसके बाद नियमित अंतराल पर उसके विकेट गिरते रहे। 65 रन के स्कोर तक उसकी आधी टीम पवेलियन लौट चुकी थी। उसका सातवां विकेट 17वें ओवर की दूसरी गेंद पर इरफान पठान के तौर पर 95 रन के स्कोर पर गिरा था। इरफान पठान ने 2 चौके की मदद से 27 गेंद में 18 रन बनाए। 

उसके बाद महज 10 रन और जुड़े और पूरी टीम पवेलियन लौट गई। कैंडी टस्कर्स की ओर से रहमानउल्लाह गुरबाज हाइएस्ट स्कोरर रहे। उन्होंने 4 चौके और 2 छक्के की मदद से 21 गेंद में 34 रन बनाए। कैंडी टस्कर्स के 8 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू पाए।

{ads}