फैटी लिवर का एक लक्षण से वजन में अचानक गिरावट हो सकता है, जानें कैसे रखें लिवर को हेल्दी

Fatty Liver Home Remedies: स्वास्थ्य विशेषज्ञ फैटी लिवर के मरीजों को भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ लेने की सलाह देते हैं

फैटी लिवर का एक लक्षण से वजन में अचानक गिरावट हो सकता है, जानें कैसे रखें लिवर को हेल्दी

Fatty Liver: शरीर के प्रमुख अंगों में से एक लिवर खाने को प्रोसेस कर उसमें मौजूद सभी टॉक्सिन्स को फिल्टर कर देता है। इतना  ही नहीं, इम्युनिटी बढ़ाने, ब्लड शुगर कंट्रोल करने और प्रोटीन के प्रोडक्शन में भी लिवर अहम भूमिका निभाता है। ऐसे में लिवर का स्वस्थ रहना बेहद जरूरी है। 



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

फैटी लिवर की बीमारी एक ऐसी स्थिति है जो समय के साथ लिवर में फैट का निर्माण करती है। इस बीमारी में लिवर में सूजन हो जाती है या फिर वो संकुचित यानि कि सिकुड़ जाता है। मोटापा, डायबिटीज, उच्च रक्तचाप और हाई कोलेस्ट्रॉल के मरीजों को फैटी लिवर बीमारी से अधिक सतर्क रहना चाहिए। आइए जानते हैं इसके आम लक्षण और बचाव के आसान उपाय –

जानें फैटी लिवर बीमारी के लक्षण: गलत खानपान व अनहेल्दी आदतों के कारण लोग फैटी लिवर की चपेट में आते हैं। बता दें कि जो लोग ज्यादा शराब पीते हैं, उन्हें इस बीमारी का ज्यादा खतरा होता है। इस बीमारी में लिवर सेल्स में अनवांटेड फैट की मात्रा बढ़ जाती है। अचानक वजन कम होना, थकान, पेट संबंधी परेशानी और कमजोरी लगना इसके आम लक्षण हैं। इसके अलावा, इस बीमारी से पीड़ित लोगों का हाथ और स्किन पीला होने लगता है। साथ ही, हाथ भी लाल होने लगते हैं। वहीं, पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होने पर भी डॉक्टर से दिखाएं।



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

क्या हैं बचाव के उपाय: माना जाता है कि फैटी लिवर की परेशानी अपनी जीवन शैली में बदलाव लाकर और हेल्दी डाइट के जरिये ही कंट्रोल हो सकती है। साथ ही, घरेलू उपचारों की मदद से फैटी लिवर की समस्या को ठीक किया जा सकता है। वजन पर संतुलन के लिए फिजिकल एक्टिविटीज करने की सलाह दी जाती है।

इन फूड्स को करें डाइट में शामिल: हेल्दी फूड्स खाने से भी लिवर में आई सूजन को कम किया जा सकता है। फैटी लिवर के मरीजों को डाइट में करेला शामिल करना चाहिए क्योंकि इसमें एंटी-इंफ्लामेट्री गुण होते हैं जो लिवर में सूजन होने से रोकते हैं। इसके अलावा, सेब का सिरका, हल्दी, आंवला, पपीता, दही, नींबू भी इन मरीजों के लिए फायदेमंद हो सकता है।

ये ड्रिंक्स हैं लाभकारी: स्वास्थ्य विशेषज्ञ फैटी लिवर के मरीजों को भरपूर मात्रा में तरल पदार्थ लेने की सलाह देते हैं। ताजे फलों का रस, सब्जियों से बने जूस, नारियल पानी और छाछ का सेवन इन मरीजों के लिए लाभदायक सिद्ध होगा। इसके अलावा, ग्रीन-टी में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट फैटी लिवर के लक्षणों को कंट्रोल करने में मदद करता है।

{ads}