तारक मेहता का उल्टा चश्मा के लेखक अभिषेक मकवाना ने किया सुसाइड

 तारक मेहता का उल्टा चश्मा के लेखकों में से एक अभिषेक मकवाना ने आत्महत्या कर ली है। उन्होंने अपने सुसाइड नोट में लिखा कि आर्थिक तंगी के कारण वो..

तारक मेहता का उल्टा चश्मा के लेखक अभिषेक मकवाना ने किया सुसाइड

टेलीविजन जगत के प्रसिद्ध शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ के लेखकों में से एक अभिषेक मकवाना ने आत्महत्या कर ली है। अभिषेक मकवाना ने पिछले हफ्ते आत्महत्या की थी। उनके परिवार ने यह दावा किया है कि वो साइबर फ्रॉड और ब्लैकमेलिंग का शिकार हुए थे। मौत के बाद उनकी मौत की छानबीन कर रही पुलिस ने बताया कि लेखक ने अपने सुसाइड नोट में ‘आर्थिक परेशानियों’ को अपने मौत की वजह बताई थी।



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के अनुसार, अभिषेक मुंबई में अपने फ्लैट में 27 नवंबर को मृत पाए गए थे और उन्होंने अपनी सुसाइड नोट में आर्थिक तंगी को अपने मौत का कारण बताया। लेखक की मौत के बाद उनके भाई ने वेबसाइट से बातचीत में बताया कि उन्हें साइबर फ्रॉड और ब्लैकमेलिंग की जानकारी तब हुई जब उन्हें ब्लैकमेलर्स की तरफ से लगातर कॉल्स आने लगे। उन्होंने बताया कि उनके परिवार और अभिषेक के करीबी दोस्तों को फोन कर उन पर लिए हुए पैसों को लौटाने का दबाव बनाया जा रहा है।

अभिषेक मकवाना के भाई जेनिस ने बताया, ‘मैंने अपने भाई का मेल चेक किया क्योंकि जब से उनकी मृत्यु हुई है, तब से मुझे बहुत से कॉल्स आ रहे हैं जिसमें यह डिमांड की जा रही है कि वो पैसे लौटा दिए जाएं जो उन्होंने (अभिषेक मकवाना) ने किसी से लिए थे। जेनिस ने दावा किया कि अभिषेक के फोन से जो मेसेजेस प्राप्त हुए हैं उनसे यह स्पष्ट होता है कि उन्हें ब्लैकमेल किया जा रहा था। उन्होंने यह भी बताया कि अभिषेक के दोस्तों को इसी तरह के कॉल्स आ रहे थे जिसमें पैसे चुकाने की मांग की जा रही थी।

एक अधिकारी ने वेबसाइट को बताया, ‘गुजराती में लिखे गए सुसाइड नोट में उनके जीवन की मुश्किलों, आर्थिक दिक्कतों का ज़िक्र था जिससे वो पिछले कुछ महीनों से गुजर रहे थे। अपने परिवार से माफ़ी मांगते हुए अभिषेक ने कहा है कि उन्होंने परिस्थितियों से निकलने की बहुत कोशिश की लेकिन वो सब कुछ ठीक नहीं कर पाए और दिन प्रतिदिन उनकी मुश्किलें बढ़ती ही जा रही थीं।’ अधिकारी ने बताया कि उनके परिवार की तरफ से कुछ नंबर्स दिए गए हैं जिनसे उन्हें कॉल्स आ रहे थे और उस पर जांच जारी है।

{ads}