ओपनर बनना चाहते थे पेसर के बेटे रविचंद्रन अश्विन, चोट ने बनाया स्टार गेंदबाज

अश्विन ने टीम इंडिया के लिए 71 टेस्ट में 365 विकेट लिए हैं। उन्होंने 17 बार पारी में 4 और 27 बार पारी में 5 विकेट लिए हैं। मैच में कुल 10 विकेट उनके खाते में 7 बार जुड़े हैं। अश्विन ने 2011 में दिल्ली में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था।

 ओपनर बनना चाहते थे पेसर के बेटे रविचंद्रन अश्विन, चोट ने बनाया स्टार गेंदबाज


भारत के दिग्गज ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने भले ही टेस्ट क्रिकेट में 300 और वनडे में 100 से ज्यादा विकेट ले लिए हो, लेकिन वो कभी गेंदबाज नहीं बनना चाहते थे। अश्विन का मन ओपनर बल्लेबाज बनने का था, लेकिन किस्मत पलटी और वे देश के टॉप गेंदबाजों में शामिल हो गए। उन्होंने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में इस बारे में बताया। अश्विन कहा कि वे भारत की ओर से अंडर-17 टीम में ओपनिंग कर चुके हैं। अश्विन चोट के कारण टीम से बाहर हुए। उन्हें रोहित शर्मा ने उस वक्त रिप्लेस किया था।


style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">


भारत के पूर्व ओपनर और मशहूर कमेंटेटर आकाश चोपड़ा को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कई खुलासे किए। अश्विन ने क्रिकेट में अपने शुरुआत के बारे में कहा, ‘‘2003-04 में मैं भारतीय अंडर-17 एनसीए कैंप, बेंगलुरु में था। वहां पर बल्लेबाज के तौर पर बेहतरीन प्रदर्शन कर रहा था। मैं भारत के अंडर-17 टीम में बल्लेबाज के तौर पर खेला था। उस दौरान मैं खूब रन बना रहा था। कैंप में एक टीम का कप्तान मुझे बनाया गया। चिन्नास्वामी के बी-ग्राउंड पर हम जूझ रहे थे। अब वहां क्रिकेट एकेडमी है। हम एक मैच वहां खेल रहे थे। पिच टूटी हुई थी। मैंने मैच में 7 विकेट ले लिए थे।’’

अश्विन ने कहा, ‘‘कई कोच मेरे पास उसके बाद आए और कहा कि मैंने तुम्हें गेंदबाजी करते हुए देखा है। तुम अच्छे गेंदबाज बन सकते हैं। मैं उसके बाद घर गया और प्रीमियर क्लब क्रिकेट में डेब्यू किया। पहले मैच में मैंने 40-50 रन बनाए थे, लेकिन गेंदबाजों को वहां परेशानी हो रही थी। दिबाकर बासु एक मैच को देखने आए थे। अगले साल मुझे दूसरे क्लब ने अपनी टीम में शामिल किया गया। उसी दौरान मुझे कहा गया कि हम आपको गेंदबाज के तौर पर देख रहे हैं। मैं हैरान हो गया था। उसके बाद मैं जब भी गेंदबाजी करता हूं तो बल्लेबाज के तौर पर सोचता हूं। मैं गेंदबाजी को पसंद करने लगा था।’’

अश्विन ने टीम इंडिया के लिए 71 टेस्ट में 365 विकेट लिए हैं। उन्होंने 17 बार पारी में 4 और 27 बार पारी में 5 विकेट लिए हैं। मैच में कुल 10 विकेट उनके खाते में 7 बार जुड़े हैं। अश्विन ने 2011 में दिल्ली में वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू किया था। अश्विन ने 111 वनडे में 150 विकेट लिए हैं। वहीं, 46 टी20 मैचों में उनके नाम 52 विकेट हैं। इसके अलावा 154 आईपीएल मैचों में उन्होंने 138 विकेट झटके हैं। वे आईपीएल में चेन्नई सुपरकिंग्स, किंग्स इलेवन पंजाब, राइजिंग पुणे सुपरजाएंट्स और दिल्ली कैपिटल्स की ओर से खेल चुके हैं।

{ads}