बर्थडे पर युवराज सिंह ने पिता योगराज सिंह के बयान से किनारा किया, बोले मैं उनकी सोच से सहमत नहीं

योगराज के बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना भी हुई थी। लोगों ने योगराज सिंह पर कार्रवाई की मांग भी की थी। हालांकि, बाद में एक टीवी डिबेट में योगराज सिंह ने अपने बयान पर माफी भी मांगी थी। दूसरी ओर, क्रिकेट फैंस युवराज को माफी मांगने के लिए कहा था।

 बर्थडे पर युवराज सिंह ने पिता योगराज सिंह के बयान से किनारा किया, बोले मैं उनकी सोच से सहमत नहीं

युवराज सिंह ने अपने 39वें बर्थडे पर पिता योगराज सिंह के कथित हिंदु विरोधी बयान से खुद को अलग कर लिया है। युवराज ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर कहा कि मैं अपने पिता के बयान से सहमत नहीं हूं। 



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="6440906807"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

युवराज का जन्म 12 दिसंबर 1981 को चंडीगढ़ में हुआ था। उनके पिता योगराज ने किसान आंदोलन में लोगों को संबोधित करते हुए हिंदू महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके अलावा उन्होंने लोगों के बीच में भिंडरावाले पैदा करने की बात भी कही थी।

योगराज के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना भी हुई थी। लोगों ने योगराज सिंह पर कार्रवाई की मांग भी की थी। हालांकि, बाद में एक टीवी डिबेट में योगराज सिंह ने अपने बयान पर माफी भी मांगी थी। दूसरी ओर, क्रिकेट फैंस युवराज को माफी मांगने के लिए कहा था। 

युवराज ने पोस्ट में लिखा, ‘‘इस साल मैं अपना जन्मदिन मनाने के बजाए हमारे किसानों और सरकार के बीच चल रही बातचीत में जल्द समाधान के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। हमारे किसान हमारे राष्ट्र की जीवन रेखा हैं। मेरा मानना है कि ऐसी कोई समस्या नहीं है जिसे शांतिपूर्ण बातचीत से हल नहीं किया जा सकता है।’’



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="6440906807"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

युवराज ने आगे लिखा, ‘‘मैं इस महान देश का बेटा हूं और मेरे लिए इससे ज्यादा गर्व की कोई बात नहीं है। मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मेरे पिता श्री योगराज सिंह द्वारा की गई टिप्पणी एक व्यक्तिगत क्षमता में की गई है। मेरी विचारधारा किसी भी तरीके से उनकी सोच से सहमत नहीं है। मैं सभी से आग्रह करता हूं कोविड-19 के खिलाफ सावधानी बरतना बंद न करें। महामारी खत्म नहीं हुई है और हमें पूरी तरह से वायरस को हराने के लिए सावधान रहने की जरुरत है। जय जवान, जय किसान, जय हिंद।’’

बता दें कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन में अत्यंत निंदनीय और अपमानजनक भाषण देने वाले योगराज सिंह की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं।‌ योगराज को किसान आंदोलन के दौरान हिंदू महिलाओं के खिलाफ टिप्पणी करना भारी पड़ गया है। 

बॉलीवुड फिल्ममेकर विवेक रंजन अग्निहोत्री ने उन्हें अपनी फिल्म से बाहर कर दिया है। योगराज सिंह विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ में काम कर रहे थे।बर्थडे पर युवराज सिंह ने पिता योगराज सिंह के बयान से किनारा किया, बोले मैं उनकी सोच से सहमत नहीं



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="6440906807"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

योगराज के बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना भी हुई थी। लोगों ने योगराज सिंह पर कार्रवाई की मांग भी की थी। हालांकि, बाद में एक टीवी डिबेट में योगराज सिंह ने अपने बयान पर माफी भी मांगी थी। दूसरी ओर, क्रिकेट फैंस युवराज को माफी मांगने के लिए कहा था।

युवराज सिंह ने अपने 39वें बर्थडे पर पिता योगराज सिंह के कथित हिंदु विरोधी बयान से खुद को अलग कर लिया है। युवराज ने सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर कहा कि मैं अपने पिता के बयान से सहमत नहीं हूं। युवराज का जन्म 12 दिसंबर 1981 को चंडीगढ़ में हुआ था। उनके पिता योगराज ने किसान आंदोलन में लोगों को संबोधित करते हुए हिंदू महिलाओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। इसके अलावा उन्होंने लोगों के बीच में भिंडरावाले पैदा करने की बात भी कही थी।

योगराज के इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी खूब आलोचना भी हुई थी। लोगों ने योगराज सिंह पर कार्रवाई की मांग भी की थी। हालांकि, बाद में एक टीवी डिबेट में योगराज सिंह ने अपने बयान पर माफी भी मांगी थी। दूसरी ओर, क्रिकेट फैंस युवराज को माफी मांगने के लिए कहा था। 



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="6440906807"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

युवराज ने पोस्ट में लिखा, ‘‘इस साल मैं अपना जन्मदिन मनाने के बजाए हमारे किसानों और सरकार के बीच चल रही बातचीत में जल्द समाधान के लिए प्रार्थना कर रहा हूं। हमारे किसान हमारे राष्ट्र की जीवन रेखा हैं। मेरा मानना है कि ऐसी कोई समस्या नहीं है जिसे शांतिपूर्ण बातचीत से हल नहीं किया जा सकता है।’’

युवराज ने आगे लिखा, ‘‘मैं इस महान देश का बेटा हूं और मेरे लिए इससे ज्यादा गर्व की कोई बात नहीं है। मैं स्पष्ट करना चाहता हूं कि मेरे पिता श्री योगराज सिंह द्वारा की गई टिप्पणी एक व्यक्तिगत क्षमता में की गई है। मेरी विचारधारा किसी भी तरीके से उनकी सोच से सहमत नहीं है। 

मैं सभी से आग्रह करता हूं कोविड-19 के खिलाफ सावधानी बरतना बंद न करें। महामारी खत्म नहीं हुई है और हमें पूरी तरह से वायरस को हराने के लिए सावधान रहने की जरुरत है। जय जवान, जय किसान, जय हिंद।’’



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="6440906807"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

बता दें कि नए कृषि कानूनों के खिलाफ चल रहे किसान आंदोलन में अत्यंत निंदनीय और अपमानजनक भाषण देने वाले योगराज सिंह की मुश्किलें लगातार बढ़ती जा रही हैं।‌ 

योगराज को किसान आंदोलन के दौरान हिंदू महिलाओं के खिलाफ टिप्पणी करना भारी पड़ गया है। बॉलीवुड फिल्ममेकर विवेक रंजन अग्निहोत्री ने उन्हें अपनी फिल्म से बाहर कर दिया है। योगराज सिंह विवेक अग्निहोत्री की फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ में काम कर रहे थे।

{ads}