दक्षिण अफ्रीका में बिकने वाला मारुति की S-Presso भारत में अनसेफ अंतर भी जान लीजिए

दक्षिण अफ्रीका में बिकने वाला S-Presso भारतीय मॉडल के मुकाबले ज़्यादा सुरक्षित है। ये दावा सुजुकी दक्षिण अफ्रीका के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से किया गया है।

 दक्षिण अफ्रीका में बिकने वाला मारुति की S-Presso भारत में अनसेफ अंतर भी जान लीजिए

मारुति सुजुकी की मिनी एसयूवी S-Presso को भारत में भले ही असुरक्षित कार माना जाता हो लेकिन दक्षिण अफ्रीका में यह मॉडल ज़्यादा सुरक्षित है। ये दावा सुजुकी दक्षिण अफ्रीका के आधिकारिक ट्वीटर हैंडल से किया गया है।



style="display:block"
data-ad-client="ca-pub-4669332297958929"
data-ad-slot="1981374933"
data-ad-format="auto"
data-full-width-responsive="true">

इसमें स्पष्ट तौर पर कहा गया है कि दक्षिण अफ्रीका में बिकने वाला S-Presso भारतीय मॉडल के मुकाबले ज़्यादा सुरक्षित है। सुजुकी दक्षिण अफ्रीका ने ये दावा ऐसे समय में किया है जब हाल ही में हुए ग्लोबल NCAP क्रैश टेस्ट में S-Presso को जीरो रेटिंग मिली है। सुजुकी दक्षिण अफ्रीका के मुताबिक दक्षिण अफ्रीका के S-Presso में दो एयरबैग मानक हैं, लेकिन भारत के मॉडल में ऐसा नहीं है। दिलचस्प बात ये है कि दक्षिण अफ्रीका में जिन मॉडल की बिक्री होती है वो भी भारत से ही निर्यात किए जाते हैं।

भारतीय मॉडल में क्या थी कमी: बीते दिनों ग्लोबल NCAP ने अपनी रिपोर्ट में S-Presso मॉडल के बारे में कई सवाल खड़े किए थे। NCAP ने कहा था कि क्रैश टेस्ट के दौरान कार को चलाने वाले ड्राइवर और उसकी बगल वाली सीट पर बैठे शख्स की सुरक्षा को खतरा है। इसके अलावा कंपनी बगल की सीट पर बैठे शख्स की गर्दन को सुरक्षा भी सही से नहीं दे पा रही है। भारत का मॉडल S-Presso अधिक लोडिंग को झेलने में भी सक्षम नहीं है।

कीमत और लुक: भारतीय मॉडल की शुरुआती कीमत 4 लाख रुपये से भी कम है। वहीं, फ्रंट लुक काफी बोल्ड है। फ्रंट और रियर बंपर का एक खास आकर्षण है। रियर पार्किंग सेंसर्स, सीट बेल्ट रिमाइंडर और स्पीड अलर्ट सिस्टम जैसी सुविधाएं सभी वेरिएंट में उपलब्ध है। हालांकि, सिर्फ टॉप वेरिएंट में ड्यूल फ्रंट एयरबैग्स उपलब्ध हैं। मारुति सुजुकी की इस छोटी कार में 27 लीटर की क्षमता वाला फ्यूल टैंक दिया गया है। मारुति सुजुकी की ये मिनी एसयूवी पिछले साल के सितंबर महीने में लॉन्च हुई थी।

{ads}